Print

2009-10

रेल बजट 2009-10

 

रेल मंत्री, कुमारी ममता बनर्जी द्वारा 3 जुलाई, 2009 को वर्ष 2009-10 का रेल बजट प्रस्तुत करते समय दिए गए भाषण (पैरा सं. मुख्य भाषण के अनुसार) के मुख्य अंश :-

 

पूर्वोत्तर क्षेत्र और सिक्किम की उपलब्धियां

 

विश्वस्तरीय स्टेशन

 

12. अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं के साथ लगभग 50 स्टेशनों को विश्वस्तर के स्टेशनों के रूप में विकसित करना । इन्हें नवीन वित्त पोषण तकनीक के माध्यम से और निजी सरकारी भागीदारी पद्धति से – गुवाहटी - विकसित किया जाएगा ।

 

बहु-कार्यकरण परिसर

 

14. रेल यात्रियों को खरीदारी, भोजन स्टाल और भोजनालय, पुस्तक स्टाल,पीसीओ, एसटीडी, आईएसडी फैक्स बूथ, मशीन और वैरायटी स्टोर, बजट होटल, अंडर ग्राउंड पार्किंग आदि की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए 50 स्टेशनों में बहु-कार्यकरण परिसरों का निर्माण किया जाएगा । इन सुविधाओं के विकास का दायित्व इरकोन और रेल भू-विकास प्राधिकरण सिलचर को सौंपा जाएगा ।

 

32. सार्वजनिक निजी भागीदारी के माध्यम से विद्यमान रेलवे अस्पतालों में रेल कर्मचारियों के बच्चों की नई पीढ़ी को उच्च शिक्षा सुविधाएं प्रदान करने के लिए मेडिकल कालेज – गुवाहटी बनाने की योजना है ।

 

40. महोदया, जैसाकि की आप जानती हैं कि हमारा इस समय देश फलों और सब्जियों के नष्ट होने से प्रतयेक वर्ष लगभग 35 – 40, हजार करोड़ रूपये की अस्वीकार्य हानि उठाता है । मुझे सदन को फलों और सब्जियों, मछली आदि शीघ्र नष्ट होने वाले उत्पादों को उनके अभिज्ञात उत्पादन कलस्टरों को उपभोक्ताओं तक गुणवत्ता और तरोताजा बनाए रखते हुए पहुंचाने के लिए विशेष रेलें शुरू करके दूसरी हरित क्रांति के लिए रेलवे के योगदान से अवगत कराने में खुशी हो रही है । रेलवे सार्वजनिक – निजी भागीदारी के माध्यम से शीतागारों और शीघ्र खराब होने वाले कार्गो हेतु तापमान नियंत्रित केन्द्रों की स्थापना और इसके परिवहन के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराने को बढ़ावा देगा । इस उद्देश्य के लिए रेलवे स्थलों को अभिज्ञात करने और उचित सेवाओं के डिजाईनों के लिए व्यावसायिक अभिकरण से सहयोग लेगा ।

 

क. नई सेवाएं

 

        16. Dibrugarh Town – Chandigarh Express (Weekly)

 

        32. New Delhi – Guwahati Rajdhani Express (Weekly) via Muzaffarpur

 

        44. Guwahati – New Cooch Behar Express Intercity (Daily)

 

        47. Dharmanagar- Agartala Fast Passenger (Daily)

 

b. Extension of Trains

 

         9. 5761/5762 Ranchi- Alipurduar to Guwahati (Bi-weekly)

 

76. जीराबाम-इम्फाल सड़क, दीमापुर-कोहिमा, अजरा-बरनीहाट, कुमारघाट-अगरतला, भैरवी-सेरोंग, अगरतला-साबरूम और सिवोक-रेंगपो नई लाईनें, बोगीबील रेल- सह सड़क पुल, लुमडिंग-सिलचर-जीरीबाम और रंगिया-मुरकोंगसलेक गेज परिवर्तन के लिए वित्त मंत्रालय से 1949 करोड़ रूपये की अतिरिक्त निधियां मांगी गई हैं ।

 

83. महोदया, पूर्वोत्तर क्षेत्र बहुत संवेदनशील है और राज्य राजधानियों अरूणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर और मिजोरम को रेल संपर्क से जोड़ने के लिए इसकी परियोजनाएं प्रगति पर हैं । इसे स्वीकारते हुए इस क्षेत्र की 10 परियोजनाओं को राष्ट्रीय परियोजनाओं के रूप में घोषित किया गया है । इनमें बोगीबील रेल- सह सड़क पुल, लुमडिंग-सिलचर-जीरीबाम और रंगिया-मुरकोंगसलेक गेज परिवर्तन शामिल है 1 सिक्किम में सिवोक से रेंगपो राष्ट्रीय परियोजना का निर्माण समयबद्ध पूर्णता के साथ इरकोन को सौंपे जाने का प्रस्ताव है । गंगटोक और शिलांग को जोड़ने के लिए नई लाईनों के सर्वेक्षण पूरे हो गए हैं और प्रस्ताव आगे नई स्वीकृतियों की प्रक्रिया में हैं । इस क्षेत्र में राष्ट्रीय परियोजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए आवश्यक निधियां सुनिश्चित करने हेतु पूर्वोत्तर क्षेत्र रेल विकास निधि के सृजन के लिए एक प्रस्ताव पहले ही शुरू किया जा चुका है ।

 

84. लुमडिंग-सिलचर गेज परिवर्तन का काय्र इस क्षेत्र में कानून व्यवस्था की प्रतिकूल स्थिति के कारण प्रतिकूल रूप में प्रभावित हो रही है । इस मामले को आवश्यक सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए संबधित अधिकारियों के साथ उठाया गया था ताकि कार्य सुचारू रूप से प्रगित की ओर बढ़ सके ।

 

85. मैं सभी राष्ट्रीय परियोजनाओं के मोनीटरिंग का दायित्व एक वरिष्ठ अधिकारी को सौंपने जा रही हूं ताकि समय पर पूर्णता का सख्ती से पालन किया जा सके ।

 

89. अवसंरचना सृजन – निम्नलिखित रेल प्रस्तावों पर कार्य करने का प्रस्ताव है :-

 

क. नई लाईनें: 53. मिरिक-गंगटोक

Page Maintained By: 
श्री उदय शंकर, निदेशक

बुनियादी ढांचे

सामान्य