Print

पूर्व-पश्चिम कॉरिडोर

पूर्वोत्तर में पूर्व-पश्चिम कॉरिडोर परियोजना

 

(मार्च, 2012 की स्थिति के अनुसार)

(स्रोत: NHAI)

 

पूर्वोत्तर में पूर्व पश्चिम कॉरिडोर श्रीरामपुर से प्रारंभ होता है और सिलचर में समाप्त होता है । इस परियोजना का उद्देश्य पूर्वोत्तर क्षेत्रों का शेष भारत के साथ सम्बद्धता में सुधार लाना है । ऐसा श्रीरामपुर और सिलचर के बीच 4 लेन हाइवे जो 670 किलोमीटर लंबा होगा, के माध्यम से किया जाएगा । कॉरिडोर असम से आगे नहीं जाएगा । सिलचर पूर्व पश्चिम कॉरिडोर को दिसंबर, 2011 से दिसंबर, 2012 तक पूर्ण किए जाने का लक्ष्य है । इसमें एनसी हिल्स जिले के 5 पैकेज शामिल नही हैं जिनके शेष कार्य को मार्च, 2014 तक पूर्ण किए जाने के लक्ष्य के साथ पुनः दिए गए हैं । विलंब के कारणों में अन्य बातों के साथ-साथ भी अधिग्रहण समस्याएं पेड़ कटने के लिए वन स्वीकृति और बिजली खम्भों के अंतरण आदि शामिल हैं ।

 

विस्तृत सूचना

 

  • साथ पूर्वोत्तर में कुल लंबाई (केवल असम में कवर)      - 670 कि.मी.
  • लागत                                                            - Rs.7145.10 करोड़ रु.
  • असम/पश्चिम बंगाल सीमा(साथराष्ट्रीय राजमार्ग31 ग पर 0 कि.मी.) से श्रीरामपुर में प्रारंभ होकर सिलचर (306.25 कि.मी.-रा.रा. सं.54)
  • सिलचर, मैबांग, लुमडिंग, डाबोका, नागांव, सोनापुर, गुवाहाटी, नलबाड़ी और बिजनी से गुजरते हुए ।
चार लेन कार्य की स्थिति
साथ चार लेन पूर्ण 18 कि.मी.
(गुवाहाटी बाईपास)
कार्यान्वयनाधीन 621 km
फरवरी, 12 तक पूर्ण 4 लेन 371 km
12 तक पूर्ण 4 लेन राज्य लोक निर्माण विभाग दो लेन का कार्य पूर्ण होने के पश्चात कार्य दिया जाएगा । 31 km*

 

  * कि.मी. बालाचेरा से हिरंगाजू तक 31 कि.मी. के मार्ग को एक लेन से दो लेन के रूप में राज्य लोक निर्माण विभाग द्वारा जोड़ा जा रहा है । बोरेल वाइल्ड लाइफ और बोरेल रिजर्व फॉरेस्ट से स्वीकृति प्रतीक्षित है । लोक निर्माण विभाग द्वारा दो लेन का कार्य समाप्त कर लिए जाने के पश्चात 4 लेन कार्य किया जाएगा ।

 

  • 621 कि.मी. (कार्यान्वयनाधीन) 26 संविदा पैकेज शामिल है ।
  • अधिकांश संविदाएं नवंबर/दिसंबर 2005 में दी गई थीं
  • सभी ठेकेदार कार्यस्थल पर सक्रिय हैं और असम में दीमाहसाओ जिले में 5 संविदा पैकेजों के सिवाय कार्य प्रगति पर है जहां कब्जामुक्त कार्यस्थल नहीं मिल पाने और कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के कारण ठेकेदारों द्वारा अप्रैल, 2008 से कार्य रोक दिया गया है । एनसी हिल्स जिले के सभी पांचों सिविल पैकेजों के कार्य को आगे बढ़ाने के लिए पुनः संविदा जारी की गईं हैं ।
  • समग्र पूर्व पश्चिम कारीडोर के कार्य को दिसंबर, 2011 से दिसंबर, 2012 तक पूर्ण किए जाने के लक्ष्य हैं जिसमें एनसी हिल्स के 5 पैकेज शामिल नहीं है जिनके शेष कार्य को पूरा करने के लिए मार्च, 2014 तक पूर्ण लक्ष्य के साथ पूनः संविदाकृत की गई है ।

पैकेजवार प्रगति (कुल 26)

 

  • दीमाहसाओ जिले में 5 परियोजनाओं के सिवाय संविदा पैकेजों की औसत प्रगति मार्च, 2012 की स्थिति के अनुसार 69.93% है (विवरण अनुबंध-I[MSExcel](114 KB)).
  • पूर्ण परियोजनाएं                                     -  3
  • 85% से अधिक प्रगति वाली परियोजनाएं         -  3
  • 60 से 85% तक प्रगति वाली परियोजनाएं        -   9
  • 40 से 60% तक प्रगति वाली परियोजनाएं        -   4
  • 20 से 40% तक प्रगति वाली परियोजनाएं        -   2
Page Maintained By: 
श्री उदय शंकर, निदेशक

बुनियादी ढांचे

सामान्य