Print

दूरसंचार सघनता एवं अन्य दूरसंचार मुद्दे

उत्तर पूर्वी क्षेत्र में दूरसंचार सघनता एवं अन्य संचार मुद्दे

 

उत्तर पूर्वी क्षेत्र में दूरसंचार सर्किल

 

1. उत्तर पूर्वी क्षेत्र (सिक्किम को छोड़कर) में निम्नलिखित तीन दूरसंचार सर्किल हैं:

  • असम दूरसंचार सर्किल
  • उ.पू.-1 दूरसंचार सर्किल – मेघालय, मिजोरम, त्रिपुरा
  • उ.पू. -2 दूरसंचार सर्किल – अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, नागालैंड
  • सिक्किम पश्चिम बंगाल दूरसंचार सर्किल का भाग है ।

दूरसंचार सघनता

 

2. उत्तर पूर्वी क्षेत्र में दूरसंचार सघनता से संपूर्ण स्थिति का पता चलता है । कमजोर दूरसंचार सघनता और सेवाओं की गुणवत्ता से उत्तर पूर्वी क्षेत्र में संचार क्षेत्र की समस्याओं का पता चलता है ।

 

श्रेणी असम उत्तर पूर्वी अखिल भारत
ग्रामीण 27.47% 33.51% 36.81%
शहरी 142.96% 145.80% 166.54%
कुल 44.91% 60.72% 76.03%

 

3. संचार विभाग असम जिसके पास अलग दूरसंचार सर्किल है, को छोड़कर उत्तर पूर्वी क्षेत्र में प्रत्येक राज्य के लिए दूरसंचार सघनता संबंधी आंकड़ों का अलग से रख-रखाव नहीं करता है । उ.पू-1 और उ.पू.2 के अलग आंकड़े नहीं रखे जाते हैं । सिक्किम के लिए अलग से आंकड़े नहीं है क्योंकि यह पश्चिम बंगाल दूरसंचार सर्किल का एक भाग है ।

 

4. राष्ट्रीय राजमार्गों पर दूरसंचार संबद्धता का कवरेज और ब्रॉडबैंड संबंधी स्थिति अत्यंत खराब है।

 

उत्तर पूर्वी क्षेत्र में सार्वभौमिक सेवा दायित्व निधि (यूएसओएफ) गतिविधियां

 

5.  उत्तर पूर्वी क्षेत्र में सार्वभौमिक सेवा दायित्व निधि (यूएसओएफ) सक्रिय रही है । इसकी गतिविधियों का विवरण यूएसओएफ के खंडों में देखा जा सकता है ।

 

अन्य दूरसंचार मुद्दें

 

6.  चिकेन्स नेक क्षेत्र से गुजरने वाली दूरसंचार लाइनों का बाहुल्य करने के लिए उत्तर पूर्वी क्षेत्र के साथ कॉक्स बाजार, बांग्लादेश में समुद्रगत केविल नोड संपर्क की आवश्यकता महसूस की गई है । इसकी चिकेन्स नेक क्षेत्र से गुजरने वाले विद्यमान नेटवर्क के लिए दोषमुक्त वैकल्पिक ऑप्टिकल फाइबर (ओएफ)/भू मार्ग के रूप में आवश्यकता है । अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र से इन्हें गुजारने के लिए दो संभावित हल निम्नलिखित है:

 

  • अगरतला से ढाका (वाया कोलकाता) ओएफसी रूट नेटवर्क
  • अगरतला से कोक्स बाजार से चेन्नई पर उप समुद्रीय ओएफसी केबल-ओएफसी रूट।

डोनर मंत्रालय ने बांग्लादेश सरकार के साथ समन्वय और समझौते की व्यवहार्यता का पता लगाने के लिए दूरसंचार विभाग और विदेश मंत्रालय से अनुरोध किया है ।

 

7. गुवाहाटी में बेहतर इंटरनेट सेवाओं के लिए भारतीय राष्ट्रीय इंटरनेट एक्सचेंज की स्थापना करना । इस समय उत्तर पूर्वी क्षेत्र में इंटरनेट ट्रेफिक कोलकाता के माध्यम से जाता है । सूचना प्रौद्योगिकी विभाग से निक्सी से गुवाहाटी में एक नये नोड की स्थापना के लिए व्यावहारिक अंतर का पता लगाने के लिए अनुरोध किया गया है । निक्सी ने सैद्धांत रूप में अपनी सहमति दे दी है।

 

8.  इस समय सुरक्षा कारणों से उत्तर पूर्वी क्षेत्र में अन्य राज्यों से आने वाले प्रीपेड उपभोक्ताओं के लिए राष्ट्रीय रोमिंग सुविधा उपलब्ध नहीं है । इससे पर्यटन और व्यवसायी आगंतुकों पर प्रभाव पड़ा है जिससे राज्यों के हितों को नुकसान हो रहा है ।

 

9. उत्तर पूर्वी क्षेत्र में दूरसंचार क्षेत्र के सुदृढ़ीकरण के लिए निजी दूरसंचारकों की और अधिक भागीदारी की आवश्यकता है ।

 

10. राज्य सरकारों द्वारा पता लगाए गए क्रियान्वयन मुद्दे ।

 

  • राज्य विद्युत विभागों द्वारा दूरसंचार प्रतिष्ठापन के लिए वाणिज्यिक विद्युत कनेक्शन विस्तार में विलंब।
  • दूरसंचार प्रतिष्ठापनों के लिए भरोसेमंद विद्युत आपूर्ति का अभाव होने से दूरसंचार सेवाएं प्रतिकूल प्रभावित हो रही है।
  • दूरसंचार लाइनें बिछाने के लिए स्थानीय सरकारी निकायों द्वारा मार्ग अधिकार (राइट ऑफ वे) अनुमोदन आवश्यक ।
  • एनएचएआई राज्य लोकनिर्माण विभाग और राज्य पीएचई द्वारा केबल/ओएफसी काटने के लिए दूरसंचार ऑपरेटरों के लिए क्षतिपूर्ति ।

11. स्थिति (15.06.2012)

बुनियादी ढांचे

सामान्य